यारा रे Yaara Re/Ajnabi Kahein Lyrics in Hindi – ROY | sung by KK

यारा रे Yaara Re/Ajnabi Kahein Lyrics in Hindi – ROY | sung by KK








यारा रे Yaara Re/Ajnabi Kahein Lyrics in Hindi – ROY | sung by KK

अजनबी कहें की अपना कहें
अब क्या कहें, क्या ना कहें
अजनबी कहें की अपना कहें
अब क्या कहें, क्या ना कहें

क्यों फसलों में भी तू यारा रे
यारा रे.. यारा रे..
क्यों फसलों में भी तू यारा रेतू छूट कर, क्यों छूटा नहीं
कुछ तो जुदा है अभी
मैं टूट कर, क्यों टूटा नहीं
जीने में है तू कहीं
इशारे भी चुप हैं, ज़ुबान खामोश है
सदा गुम-सुम सी है, तन्हा आगोश हैं
यारा रे.. यारा रे..
क्यों फसलों में भी तू यारा रे
यारा रे.. यारा रे..
क्यों फसलों में भी तू यारा रेहै हर घडी, वो तिश्नगी
जो एक पल भी ना बुझी
है ज़िन्दगी चलती हुई
पर ये ज़िन्दगी ही नहीं

इशारे भी चुप हैं, जुबां ख़ामोश है
सदा गुम-सुम सी है, तन्हा आगोश है
यारा रे.. यारा रे..
क्यों फसलों में भी तू यारा रे
यारा रे.. यारा रे..
क्यों फसलों में भी तू यारा रे



यारा रे Yaara Re/Ajnabi Kahein Lyrics in Hindi – ROY | sung by KK Video




Was this helpful?

0 / 0

Leave a Reply 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *