रिम झिम Rim Jhim Lyrics in Hindi – Jubin Nautiyal

रिम झिम Rim Jhim Lyrics in Hindi – Jubin Nautiyal








रिम झिम Rim Jhim Lyrics in Hindi – Jubin Nautiyal

रिम झिम ये सावन
फिर बरसात ले आया है
मौसम मोहब्बतों का
खुद चल के आया है

सारे शहर में सिर्फ
हमको भिगाया है
रिम झिम ये सावन
फिर बरसात ले आया है

हो आ…
हो आ…

पहली मोहब्बत है
और पहली ये बारिश है
भर लो बाहों में
आसमां की नवाजिश है

कितना खुश है
देखो ना ये आसमां
है खुशनसीबी मेरी
सारे जमाने में

जो हमसफ़र तूने
मुझे बनाया है
रिम झिम ये सावन
फिर बरसात ले आया है

राहें अब सारी जाके
तुझसे मिल जाती हैं
हसते हसते आंखें से
बूंदे गिर जाती हैं

तू जो आया बदली मौसम की हवा
जितना बेचैनी में था
पहले ये सफर मेरा

उतना सुकून मैंने
तुझमें अब पाया है
रिम झिम ये सावन
फिर बरसात ले आया है

रिम झिम ये सावन
फिर बरसात ले आया है
मौसम मोहब्बतों का
खुद चल के आया है

सारे शहर में सिर्फ
हमको भाग्य है
रिम झिम ये सावन
फिर बरसात ले आया है

हो आ…
हो आ…



रिम झिम Rim Jhim Lyrics in Hindi – Jubin Nautiyal Video




Was this helpful?

0 / 0

Leave a Reply 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *