मुझे किसी से प्यार नहीं Mujhe Kisi Se Pyar Nahi – Manoj Muntashir, Papon

मुझे किसी से प्यार नहीं Mujhe Kisi Se Pyar Nahi – Manoj Muntashir, Papon








मुझे किसी से प्यार नहीं Mujhe Kisi Se Pyar Nahi – Manoj Muntashir, Papon

मुझे किसी से प्यार नहीं है
आँखें मगर सवाली हैं

मुझे किसी से प्यार नहीं है
आँखें मगर सवाली हैं

कुछ दिन से लगता है जैसे
कुछ दिन से लगता है जैसे
शामें खाली-खाली हैं

मुझे किसी से प्यार नहीं है
आँखें मगर सवाली हैं

गीनके बता सकता हूँ कितने
पत्थर पाओं में चुभते हैं
गीनके बता सकता हूँ कितने
पत्थर पाओं में चुभते हैं

उसके सहर की सारी गालियाँ
उसके सहर की सारी गालियाँ
मेरे देखी भाली हैं

मुझे किसी से प्यार नहीं है
आँखें मगर सवाली हैं

अशकों का शैलाब बदन की
दीवारें भी तोड़ गया
अशकों का शैलाब बदन की
दीवारें भी तोड़ गया

बड़े जतन से तेरी यादें
बड़े जतन से तेरी यादें
मैंने आज सम्भाली हैं

मुझे किसी से प्यार नहीं है
आँखें मगर सवाली हैं
कुछ दिन से लगता है जैसे
शामें खाली-खाली हैं



मुझे किसी से प्यार नहीं Mujhe Kisi Se Pyar Nahi – Manoj Muntashir, Papon Video




Was this helpful?

0 / 0

Leave a Reply 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *