मेरे सामने वाली खिड़की में Mere Samne Wali Khidki Mein – Padosan

मेरे सामने वाली खिड़की में Mere Samne Wali Khidki Mein – Padosan








मेरे सामने वाली खिड़की में Mere Samne Wali Khidki Mein – Padosan

अरे हे..
ला ला ला..

हम्म हे हे
मेरे सामने वाली खिड़की में
एक चांद का टुकड़ा रहता है
मेरे सामने वाली खिड़की में
एक चांद का टुकड़ा रहता है
अफ़सोस ये है के वो हमसे
कुछ उखड़ा-उखड़ा रहता है
मेरे सामने वाली खिड़की में
एक चांद का टुकड़ा रहता है

जिस रोज़ से देखा है उसको
हम शमां जलाना भूल गए
दिल थाम के ऐसे बैठे हैं
कहीं आना-जाना भूल गए
अब आठ पहर इन आँखों में
वो चंचल मुखड़ा रहता है
मेरे सामने वाली खिड़की में
एक चांद का टुकड़ा रहता है

बरसात भी आकर चली गई
बादल भी गरज कर बरस गए
बरसात भी आकर चली गई
बादल भी गरज कर बरस गए
पर उसकी एक झलक को हम
ऐ हुस्न के मालिक तरस गए
कब प्यास बुझेगी आँखों की
दिन रात ये दुखड़ा रहता है

मेरे सामने वाली खिड़की में
एक चांद का टुकड़ा रहता है
अफ़सोस ये है के वो हमसे
कुछ उखड़ा-उखड़ा रहता है
मेरे सामने वाली खिड़की में
एक चांद का टुकड़ा रहता है



मेरे सामने वाली खिड़की में Mere Samne Wali Khidki Mein – Padosan Video




Was this helpful?

0 / 0

Leave a Reply 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *