गज़ब का है ये दिन Gazab Ka Hai Yeh Din – Sanam Re

गज़ब का है ये दिन Gazab Ka Hai Yeh Din – Sanam Re








गज़ब का है ये दिन Gazab Ka Hai Yeh Din – Sanam Re

हो.. हूँ.. ओ.. ऊ…
चल पड़े हम ऐसी राह पे
बेफिक्र हुए के अब जाना कहाँ
लापता हुए सारे रास्ते
ढूँढेगा हमें ये ज़माना कहाँ

ये समां है कैसा
मुस्कुराने जैसा
धीमी बारिशें हैं हर जगह
हूँ ये नशा है कैसा
डूब जाने जैसा
जागी ख्वाहिशें हैं हर जगह

गज़ब का है ये दिन
गज़ब का है ये दिन
गज़ब का है ये दिन देखो ज़रा
गज़ब का है ये दिन
गज़ब का है ये दिन
गज़ब का है ये दिन देखो ज़रा

हो.. ऊ.. हे.. ऊ…
पानी हूँ पानी मैं
हाँ बहने दो मुझे
जैसा हूँ वैसा ही
रहने दो मुझे

दुनिया की बंदिशों से
मेरा नाता है कहाँ
रुकना ठहरना मुझको आता है कहाँ

ये समां है कैसा
मुस्कुराने जैसा
धीमी बारिशें हैं हर जगह
हा.. ऊ.. ऊ…
ये नशा है कैसा
डूब जाने जैसा
जागी ख्वाहिशें हैं हर जगह

गज़ब का है ये दिन
गज़ब का है ये दिन
गज़ब का है ये दिन देखो ज़रा
गज़ब का है ये दिन
गज़ब का है ये दिन
गज़ब का है ये दिन देखो ज़रा



गज़ब का है ये दिन Gazab Ka Hai Yeh Din – Sanam Re Video




Was this helpful?

0 / 0

Leave a Reply 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *