बूँद बूँद Boond Boond Lyrics In Hindi – Hate Story 4

बूँद बूँद Boond Boond Lyrics In Hindi – Hate Story 4








बूँद बूँद Boond Boond Lyrics In Hindi – Hate Story 4

बूँद बूँद में गुमसा है
ये सावन भी तो तुमसा है

इक अजनबी अहसास है
कुछ है नया कुछ ख़ास है
कसूर ये सारा मौसम का है

बूँद बूँद में गुमसा है
ये सावन भी तो तुमसा है

चलने दो मनमर्जियां
होने दो गुस्ताखियाँ
फिर कहाँ ये फुरसतें
फिर कहाँ नजदीकियां
कहदो तुम भी कहीं
लापता तो नहीं..

दिल तुम्हारा भी तो कुछ
चाहता तो नहीं

बूँद बूँद में गुमसा है
ये सावन भी तो तुमसा है

इक अजनबी अहसास है
कुछ है नया कुछ ख़ास है
www..in
कसूर ये सारा मौसम का है

बूँद बूँद में गुमसा है
ये सावन भी तो तुमसा है

सिर्फ इक मेरे सिवा
कुछ और ना देख तू
ख्वाहिशों के शहर में
एक मैं हूँ एक तू

तुझको आना है तो
बनके तू सांस आ
ना रहे दूरियाँ
इस कदर पास आ

बूँद बूँद में गुमसा है
ये सावन भी तो तुमसा है

बस ये इजाज़त दे मुझे
जी भर के पी लूं तुझे
मैं प्यार हूँ और तू
शबनम सा है

बूँद बूँद में गुमसा है
ये सावन भी तो तुमसा है



बूँद बूँद Boond Boond Lyrics In Hindi – Hate Story 4 Video




Was this helpful?

0 / 0

Leave a Reply 0

Your email address will not be published. Required fields are marked *