आजा माहि Aaja Mahi Hindi Lyrics – Jyotica Tangri, Malik Sahab

आजा माहि Aaja Mahi Hindi Lyrics – Jyotica Tangri, Malik Sahab






आजा माहि Aaja Mahi Hindi Lyrics – Jyotica Tangri, Malik Sahab

आ आ..
ओ..
बोल मिटटी देया बवेया
मेरा दिल ये तुझपे आगया
ओह तुझे दूर कही ले जावा

ले जावा..

हो.. बोल मिटटी देया बवेया
मेरा दिल ये तुझपे आगया
ओ तुझे दूर कही ले जावा
तेरे नाल मैं प्यार निभावा

ओ आजा माहि..

माहि, मेरे माहि, ओ माहि वे
गल सुन मेरे माहि, येह

माहि वे, माहि वे
जदों कन्ना च सुनाई दे
माहि वे, माहि वे
जेवे ज़ख्म च दुआई वे
माहि वे, माहि वे
जींद तेरे नाल लायी वे
माहि वे, माहि वे
देवा मैं तेरी दुहाई

गल्लां सुन तेरी मेरी हुण जान घुटी रूह
तेरे वास्ते मैं हुण दुनिया छड दू
ना कदमा च तेरे खुशियाँ रख दू
जे एक वारी प्यार नाल वेखे तू
ते दुनिया दे, ते दुनिया दे
ते दुनिया दे तुझे पासे
साडी अपनी दुनिया बनवा गे
साडे नाम कताबां च अवां गे

मैंने रूप ये अपना सजाया
वे करले तू गौर सोह्णेया
उस रब से है तुझको माँगा

ना माँगा कुछ और सोह्णेया

इश्क च तेरे पागल होई
मेनू होर ना देस्दा कोई
मेनू अपने गल्लां नाल
हारा अपनी हीर बना ले

के होया के होया
मैंने चैन ही अपना खोया
मुझको ज़रा समझ ना आवे
हुण बोथी देर ना लावे
क्यूँ नहीं बोल्दा, क्यूँ नहीं बोल्दा
दिलां दी कुण्डी नु ओ
वेर्याँ नहीं खोल्दा

बोल मिटटी देया
बोल मिटटी देया
बोल मिटटी देया बावेया
ओ मेरा दिल ये तुझपे आगया
ओ तुझे दूर कही ले जावा

तेरे नाल मैं प्यार निभावा
ओ आजा माहि..

माहि, मेरे माहि, ओ माहि वे
गल सुन मेरे माहि, येह

तेरे नाल मैं प्यार निभावा
ओ आजा माहि..



आजा माहि Aaja Mahi Hindi Lyrics – Jyotica Tangri, Malik Sahab Video



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *